अंधेरगर्दी: बिजली विभाग की लापरवाही, उमरादाह में सुबह से टूटा था तार, सप्लाई भी चालू, जनपद सदस्य संजय बैस के आंखों के सामने करंट की चपेट में आने से गौमाता की मौत

बालोद । बालोद ब्लॉक के ग्राम उमरादाह, जो दुर्ग मार्ग पर स्थित है, में बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहां विगत रात्रि से आंधी तूफान के कारण टूटे हुए बिजली तार से दूसरे दिन बुधवार को शाम तक भी असुरक्षित करंट सप्लाई होता रहा। इसी करंट की चपेट में आने से एक गौ माता की मौके पर मौत हो गई। यह पूरी घटना कुसुमकसा के निवासी जनपद सदस्य संजय बैस के आंखों के सामने हुई। जो बुधवार की शाम करीब 4.30 बजे उसी रास्ते से दुर्ग जा रहे थे। तभी उन्होंने प्राथमिक शाला मुख्य मार्ग के सामने एक गौमाता को छटपटाते हुए देखा। उन्होंने तत्काल गाड़ी रोक पास जाकर देखा तो गौमाता बिजली तार से लिपटी हुई थी। चंद सेकेंड में तड़पते हुए गौमाता ने अपने प्राण त्याग दिए। सुबह से तार टूटे होने की जानकारी हुई और इस घटना से साबित हुआ कि विभाग के कर्मचारियों ने लापरवाही करते हुए इस मुख्य हाई टेंशन तार से करंट की सप्लाई भी बंद नही की थी। उन्होंने तत्काल मामले की जानकारी बिजली विभाग के डीई को दी। जिन्होंने तत्काल मामले को स्टाफ भेजकर दिखवाने की बात कही। वहीं इस घटना के बाद विभाग हरकत में आ रहा है। लेकिन अगर समय पर सप्लाई बंद की जाती तो यह घटना नही होती । साथ ही लोगों के लिए भी यह सुबह से बड़ा खतरा बना हुआ है।

डाक टिकट प्रेमी डॉक्टर प्रदीप जैन ने बुद्ध पूर्णिमा पर लगाई बुद्ध से जुड़ी टिकटों की प्रदर्शनी

बालोद। बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर स्थानीय पोस्ट ऑफिस में नगर के डाक टिकट संग्राहक डॉक्टर प्रदीप जैन ने भगवान बुद्ध के जीवन की उपलब्धियों एवम् मुद्राओ पर विभिन्न देशों द्वारा जारी आकर्षक डाक टिकटो की प्रदर्शनी आयोजित की है।

छत्तीसगढ से भी गौतम बुद्ध का विशेष जुड़ाव रहा है। यहां के महासमुंद के सिरपुर में आज भी कई बौद्ध स्मारक हैं। जिन पर डाक टिकट भी जारी हो चुके हैं।


वैशाख शुक्ल पूर्णिमा को बुद्ध पूर्णिमा या पीपल पूर्णिमा अथवा वसाक कहा जाता है। प्रत्येक माह की पूर्णिमा जगत के पालनकर्ता श्री हरि विष्णु भगवान को समर्पित होती है। इसी दिन भगवान बुद्ध की जयंती और निर्वाण दिवस भी बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है। बुद्ध पूर्णिमा के दिन बोधगया में दुनियाभर से बौद्ध धर्म के अनुयायीबड़ी संख्या में आते हैं। बोधि वृक्ष की पूजा की जाती है। मान्यता है कि इसी वृक्ष के नीचे गौतम बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था।हमारे देश में 1956 में जारी टिकट में बोधि वृक्ष को दिखाया गया है।साथ ही 2007 में उनके महापरिनिर्वाण के 2550 वर्ष पूर्ण होने पर भगवान बुद्ध के जीवन की अवस्थाओं पर भी छह टिकट जारी किए गये थे। वैशाख पूर्णिमा भगवान बुद्ध के जीवन की तीन अहम बातें -बुद्ध का जन्म,बुद्ध को ज्ञान प्राप्ति एवं बुद्ध का निर्वाण के कारण भीयह विशेष तिथि मानी जाती है। भगवान बुद्ध का अष्टांगिक मार्ग वह माध्यम है जो दुःख के निदान का मार्ग बताता है।छत्तीसगढ़ का सिरपुर प्राचीनकाल में बौद्ध धर्मावलंबियों का केंद्र रहा है वहाँ खुदाई में विशाल स्तूपा के अवशेष प्राप्त हुए हैं। महात्मा बुद्ध पर बौद्ध धर्म को मानने वाले देशों जैसे थाईलैण्ड, नेपाल,श्रीलंका, चीन,जापान, लाओस, कंबोडिया व वियतनाम आदि देशों द्वारा भी डाक टिकट जारी किये गये हैं।

चेक बाउंस का आरोपी दो साल से था फरार, सनौद पुलिस ने किया गिरफ्तार

गुरुर। सनौद पुलिस ने चेक बाउंस के मामले में फरार आरोपी को गिरफ्तार किया है जिसके खिलाफ दुर्ग कोर्ट से स्थाई गिरफ्तारी वारंट भी जारी हुआ था। आरोपी कई साल से फरार था। जिसे सनौद पुलिस ने बड़ी ही सुझबुझ , धैर्य और मशक्कत के साथ घर से पकड़ा है। जिसे गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। इस कार्रवाई पर एसपी सहित तमाम अफसरों द्वारा सनौद पुलिस की कार्रवाई की सराहना हुई । पुलिस ने बताया कि मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि आरोपी धर्मेंद्र कुमार साहू पिता कमल सिंह साहू ग्राम अरमरीकला थाना सनौद ने चोलामंडलम से वर्ष 2022 में ट्रैक्टर खरीदने के नाम से फाइनेंस कराए थे। आरोपी अर्थात वारंटी द्वारा चेक बाउंस कर दिए थे । चेक बाउंस करने के विरुद्ध चोलामंडलम फाइनेंस कंपनी के द्वारा परिवाद लगाने पर दुर्ग न्यायालय श्रीमती सरोजिनी जनार्दन खरे न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी दुर्ग के न्यायालय से वारंटी धर्मेंद्र कुमार साहू के विरुद्ध धारा 138 के मामला दर्ज कर वारंटी धर्मेंद्र कुमार साहू के विरुद्ध बेमियादी वारंट जारी कर पुलिस अधीक्षक बालोद के माध्यम से वारंट तामील निर्देश प्राप्त होने पर थाना में वारंट प्राप्त होने पर पता तलाश किया जा रहे थे। विगत 02 साल से वारंटी अपने सकुनक निवास से फरार था । पुलिस अधीक्षक आरएस भगत के निर्देश प्राप्त होने पर सहायक उपाधीक्षक नंद कुमार साहू एवं आरक्षक जितेंद्र कुमार क्रमांक 319 के द्वारा आरोपी के घर काफी दिनों से पतासाजी किया जा रहा था। 21 मई को वारंटी के सकुनत पर मिलने से वारंटी धर्मेंद्र कुमार साहू को दुर्ग न्यायालय में पेश किया गया।

शराब बेचने वाले 3 लोगों को बालोद पुलिस ने किया गिरफ्तार, 70 नग देशी प्लेन पौवा और बाइक किया जब्त

बालोद। क्षेत्र में हो रहे अवैध शराब, गांजा की तस्करी को रोकने हेतु लगातार बालोद पुलिस की कार्यवाही जारी है। अवैध रूप से शराब, गांजा की तस्करी को रोकने हेतु पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज के निर्देशन पर पुलिस अधीक्षक बालोद श्री एस.आर. भगत के मार्गदर्शन में, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोद अशोक कुमार जोशी एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बालोद श्री देवांश सिंह राठौर पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी बालोद निरीक्षक रविशंकर पाण्डेय के नेतृत्व में थाना स्तर पर एक विशेष टीम तैयार किया गया है। जिसके तारतम्य में जुर्म जरायम पतासाजी हेतु टाऊन/देहात टीम रवाना हुआ था। जिसे सूचना प्राप्त हुआ कि ग्राम लाटाबोड़ अटल चौंक के पास अवैध शराब बेचा जा रहा। सूचना पर टीम बनाकर घेराबंदी कर पकड़ने पर संदेही का नाम पता पुछने पर अपना नाम छोटे लाल साहू पिता श्री हीरामन लाल साहू उम्र 74 साल ग्राम वार्ड क्र 02 लाटाबोड़ जिसके कब्जे से देषी प्लेन शराब कुल 21 नग देशी प्लेन शराब और बिक्री रकम 400 रू मिला।इसी तरह टऊन पेट्रोलिंग के दौरान सूचना प्राप्त हुआ कि एक मोटर सायकल में 2 व्यक्ति अवैध रूप से अधिक मात्रा में शराब रखकर परिवहन कर रहें। जिन्हें हीरापुर मोड़ के पास घेराबंदी कर पकड़ने पर संदेही का नाम पता पुछने पर अपना अपना नाम.हेमंत यादव पिता छन्नु लाल यादव उम्र 43 साल ग्राम देवीनवागांव और रामसिंग साहू पिता रामजी साहू उम्र 55 साल ग्राम लाटाबोड़ बताए। जिनके कब्जे से 48 पौवा देषी प्लेन और घटना प्रयुक्त मो.सा. सी.जी. 24 यू 0631 कीमती 55000 रू को जप्त कर थाना बालोद में अपराध 34(2) आबकारी एक्ट कायम किया गया है। उक्त प्रकरण में आरोपीगण को पकड़ने में थाना प्रभारी निरीक्षक रविषंकर पाण्डेय, सउनि विश्राम साहू, प्रधान आरक्षक मनोज निर्मलकर, आरक्षक बनवाली राम साहू, नागेष साहू, मोहन कोकिला, अविनाष सिंह का विशेष योगदान रहा।