बालोद में नीट परीक्षा गड़बड़ी के मामले में छात्रों को न्याय दिलाने युवा कांग्रेस ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी, अपर कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बालोद। बालोद जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष प्रशांत बोकडे एवं उनके प्रतिनिधि मंडल ने नीट परीक्षा में हुई लापरवाही को लेकर आंदोलन की चेतावनी दी है। 405 बच्चो के भविष्य के साथ नीट परीक्षा मे बालोद मे भारी गड़बड़ी देखने को मिली है, बच्चों को गलत पेपर दिए जाने के मामले में युवा कांग्रेस ने ज्ञापन के माध्यम से बच्चों को न्याय दिलाने अपर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है। जिसके तहत 24 घंटे के भीतर अगर बच्चों के साथ न्याय नहीं हुआ तो 930 नेशनल हाइवे को जाम करने की चेतावनी दी गई है। युवा कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल में प्रसाशनिक महामंत्री आदित्य दुबे, युवा कांग्रेस महासचिव देवेंद्र साहू, सौरभ दुबे, नोमेश रामटेके, साहिल भट्ट मौजूद थे।

क्या है मामला

एनटीए नीट 2024 परीक्षा का आयोजन स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट हिंदी माध्यम विद्यालय बालोद में आयोजित किया गया था। जिसमें प्रश्न पत्र वितरण के 1 घंटे बाद पुनः दूसरा प्रश्न पत्र वितरण किया गया। उक्त परीक्षा में प्रारंभ से लेकर अंत तक अनेकों त्रुटियां थीं। परीक्षा समय अवधि समाप्ति पश्चात परीक्षार्थी और पालकों के द्वारा विरोध करने पर संयुक्त कलेक्टर पूजा बंसल के समक्ष पंचनामा तैयार किया गया। इसमें सभी घटनाक्रम का उल्लेख है। इस घटना से समस्त विद्यार्थी और पालक मानसिक तनाव के दौर से गुजर रहे हैं। परीक्षार्थियों ने बताया कि उक्त परीक्षा 2 से 5:20 बजे तक आयोजित थी। परीक्षार्थी को पहला पेपर 1:55 बजे बांटी गई। प्रश्न पेपर सॉल्व करने के दौरान पर्यवेक्षक द्वारा 40 से 50 मिनट के बाद बताया गया कि पहला पेपर जिसे सॉल्व कर रहे थे उन्हें न बनाकर दूसरा पेपर दिया गया। उसे सॉल्व करने के लिए बोला गया और पहला पेपर को वापस ले लिया गया। एक्स्ट्रा समय दिए जाने की बात कही गई लेकिन बाद में समय नहीं दिया गया। परीक्षा सत्र में अंतिम समय में पेपर जमा करने हेतु दुर्व्यवहार किया गया। परिक्षार्थियों द्वारा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी एनटीए द्वारा बोनस अथवा पुनः परीक्षा की मांग की जा रही है।

By dailybalodnewseditor

2007 से पत्रकारिता में कार्यरत,,,,,कुछ नया करने का जुनून, कॉपी पेस्ट से दूर,,,