मटिया मिडिल स्कूल में समर कैंप संपन्न, विभिन्न विधाओं में बच्चों का किया गया कौशल विकास

बालोद। समर कैंप का आयोजन शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मटिया में किया गया।

मां सरस्वती की पूजा अर्चना एवं राज गीत के साथ प्रारंभ किया गया। जिसमें शाला प्रबंधन समिति के सदस्य आमंत्रित थे।

शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मटिया के प्रधान पाठक
डोमार सिंह चंद्राकर एवं प्रशिक्षक के रूप में श्रीमती पुष्पा चौधरी शामिल थी।

तत्पश्चात अतिथियों का स्वागत गुलाल एवं पुष्प से किया गया। समर कैंप का उद्देश्य बताते हुए श्रीमती पुष्पा चौधरी ने बताया कि इसका उद्देश्य छात्र-छात्राओं को रचनात्मक गतिविधि में संलग्न कर उनमें बहुमुखी कौशल का विकास किया जा सकता है। यह शासन की मंशा है। अतः रचनात्मक गतिविधियों में ,छात्र-छात्राओं को पालक एवं उनके शिक्षक का मार्गदर्शन उपयोगी हो सकता है। बच्चों के कौशल का आदान आदान-प्रदान के रूप में फायदेमंद है । इसलिए समर कैंप का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें विभिन्न विधाओं में बच्चों के कौशल विकास किया जा सकता है जैसे चित्रकारी,गायन , वादन,निबंध कहानी लेखन ,हस्तलिपि लेखन, नृत्य, खेल ,अपने गांव व शहर का ऐतिहासिक परिचय व अन्य गतिविधियों को शामिल किया जा सकता है। इस विषय में अगली कड़ी में डीडी यदु सेवानिवृत शिक्षक एवं शाला प्रबंधन समिति के शिक्षाविद के द्वारा समर को शानदार योजना, नई पहल के रूप में सभी बच्चों को दिशा निर्देश दिया गया कि यह जीवन के लिए सुनहरा अवसर है। अतः इस पांच दिवस के समर कैंप का भरपूर लाभ उठाएं । संतोष ठाकुर भूतपूर्व सरपंच के द्वारा भी बच्चों को आशीर्वाद के रूप में प्रोत्साहित किया गया। प्रधान पाठक डोमार सिंह चंद्राकर के दिशा निर्देश में शाला प्रबंधन समिति के सहमति से एवं पालकों की सहमति से समर कैंप संचालित लिया जा रहा है। इस दौरान बच्चों के स्टोन वर्ली,वर्ली आर्ट, बांधनी प्रिंट, कबाड़ से जुगाड़, सभी बच्चों ने बनाया सिखा। आपको बता दे कि बहुमुखी प्रतिभाशाली शिक्षिका पुष्पा चौधरी हमेशा से नवाचार शिक्षक के रुप में अपनी पहचानी जाती है। कार्यक्रम में, तानिया, तुलसी रंजिता, पुष्पेंद्र, मनीष, वासुदेव, काव्य,डाली, नेहा, मोना, भूपेंद्र, खिलेंद्र, खिलेश,पल्लवी,, जागेश आदि शामिल हुए।